Betul Tapti News: गौ मुख से निकली ताप्ती को अतिक्रमण मुक्त नहीं करवा सकी भाजपा सरकार

Betul Tapti News : (बैतूल)। मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए एक बार फिर प्रदेश की भाजपा सरकार और उसके मुख्यमंत्री बैतूल जिले से निकलने वाली पुण्य सलिला मां सूर्यपुत्री ताप्ती जी एवं उसके भक्तों के संग छलावा कर रही है। सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के प्रदेश अध्यक्ष रामकिशोर पंवार ने आरोप लगाया कि मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने आज तक जिस मुलताई नगर को सिख्खो की आस्था एवं हिन्दुओ की पवित्र नगरी घोषित किया है वहां पर आज भी धडल्ले से मांस मदीरा की बिक्री हो रही है।जिसकी शिकायत के बाद न तो स्थानीय न जिला न प्रदेश सरकार रोक नहीं पाई है।

जिस सरकार के कार्यकाल में ताप्ती भक्तो को मध्यप्रदेश गान में मां ताप्ती का नाम जुडवाने के लिए आन्दोलन करना पडा उस भाजपा सरकार ने आज तक मुलताई के ताप्ती सरोवर के पास स्थित गौ मुख से निकली ताप्ती को अतिक्रमण मुक्त नहीं करवा सकी। उस सरकार ने पूर्व में सरकार के नर्मदा – ताप्ती विकास प्राद्यिकरण से नर्मदा को पृथक कर नर्मदा घाटी परियोजना, नर्मदा विकास प्राधिकरण, नर्मदा समग्र अभियान और राज्य सरकार ने नर्मदा के नाम पर मंत्रालय बनवा कर ताप्ती को अछूत समझ कर निकाल बाहर किया। आज प्रदेश में ताप्ती के नाम पर न तो कोई परियोजना है न कोई प्राधिकरण और न मंत्रालय है। प्रदेश की भाजपा सरकार ने पूर्व की कांग्रेस सरकार के समय बने ताप्ती न्यास का गठन तक नहीं किया जिसके गठन होने से पूर्व सरकार द्वारा स्वीकृत सौ करोड का बजट ताप्ती के विकास को नई दिशा दे पाता, लेकिन ताप्ती से प्रदेश सरकार का बैर जिले की भोली भाली जनता आज तक समझ नहीं सकी है।

शिवराज सरकार ने कौन सा वादा निभाया

प्रदेश की भाजपा सरकार ने मध्यप्रदेश गान में ताप्ती का नाम सरकारी डायरी में भर छपवा दिया है आज भी मध्यप्रदेश गान जो बजाया जाता है उसमें ताप्ती का नाम नहीं सुनाई देता है। जिस जिले से ताप्ती निकल कर 250 किमी में बहती है उस जिले में ही ताप्ती का नाम प्रदेश गान मे बजता सुनाई नहीं देता है तब क्या प्रदेश भर में प्रदेश गान में ताप्ती का नाम बजता होगा..! प्रदेश सरकार ने ताप्ती नदी के समग्र विकास के लिए आज तक मुलताई या बैतूल जिला मुख्यालय पर ताप्ती जी के नाम पर प्रदेश सरकार का कोई सरकारी विभाग या उपक्रम तक नहीं खोल सकी है।

ऐसे में प्रदेश सरकार से क्या उम्मीद की जा सकती है। प्रदेश के घोषणावीर मुख्यमंत्री ने स्थानीय नेताओ के हितो के लिए ताप्ती कोरीडोर बनाने की घोषणा करवा दी लेकिन जिस ताप्ती सरोवर को पूरी तरह से अतिक्रमण निगल चुका है जहां पर सरोवर की परिक्रमा तक लग पाना संभव नहीं है वहां पर ताप्ती कोरीडोर कैसे बन सकेगा…! क्या शिवराज सरकार और उसके नेताओ में इतना दम खम है कि वह कांग्रेस एवं भाजपा के ताप्ती पर चहूं ओर अतिक्रमण का महाजाल बिछा रखे लोगो से ताप्ती को मुक्त करवा सकेगें…!

बीते तीन दशक से दूर परदेश से लेकर देश – प्रदेश एवं जिले में ताप्ती नाम की अलख जगाने वाले ताप्ती भक्त एवं मां सूर्यपुत्री ताप्ती जागृति समिति के प्रदेश अध्यक्ष रामकिशोर पंवार ने जिले से निकलने वाली पुण्य सलिला मां सूर्यपुत्री ताप्ती एवं उसके भक्तो के संग छल करने वाली उनकी भावनाओ का अनादर करने वाली प्रदेश की भाजपा सरकार को सबक सिखाने के लिए ताप्ती भक्तो को गांव – गांव जाकर जिले की पांचो विधानसभा क्षेत्र के मतदाताओ को यह बताने का प्रयास करे कि कैसे प्रदेश की भाजपा सरकार मां ताप्ती और उनके भक्तो की भावनाओ के संग खिलवाड कर रही है।

श्री पंवार ने कहा कि मुलताई – बैतूल – भैसदेही तीन ऐसी विधानसभा क्षेत्र है जहां से पुण्य सलिला मां ताप्ती की जलधारा बहती है। ऐसे में साल के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस – भाजपा को छोड कर ऐसे दल या व्यक्ति को चुनाव जिताने का काम करे जो ताप्ती भक्ति की दिखावा न करता हो। श्री पंवार ने जिले की दो अन्य विधानसभा क्षेत्र आमला – सारणी तथा घोडाडोंगरी की जनता से अनुरोध करने का किया है कि इस बार मां ताप्ती के मान – सम्मान को बचाए रखने के लिए दल और सरकार दोनो में बदलाव लाने की जरूरत है।

Join Telegram Channel

Join WhatsApp Channel

Join WhatsApp Group

Follow us on Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *