Betul Hindi Samachar: लतीफ भाई रामायणी नहीं रहे, पूरे शहर में शोक की लहर

Betul Hindi Samachar: लतीफ भाई रामायणी नहीं रहे, पूरे शहर में शोक की लहरBetul Hindi Samachar: (बैतूल)। आज पूरे विश्व में जाति के नाम दंगे और नफरत फैल रही है ऐसे में चंद लोग सामाजिक समरसता का बेहतरीन उदाहरण हैं। ऐसे ही लतीफ भाई रामायणी के नाम से रामनगर निवासी मशहूर रामचरितमानस, हनुमान चालीसा, हर धार्मिक आयोजनों में लतीफ भाई रामायणी की मौजूदगी रहती थी। लतीफ भाई रामायणी का दुखद निधन मंगलवार को जिला अस्पताल में हो गया। मूलत: इलाहबाद के रहने वाले लतीफ भाई 30 वर्षो से हर धार्मिक कार्यक्रमों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेते रहे। इस संबंध में राजेन्द्र सिंह चौहान (केन्डु बाबा) ने बताया कि लतीफ भाई मृदुभाषी और नेक बंदे थे अनेकों बार रामायण मंडल द्वारा उनका अभिनंदन भी किया गया।

काले महाराज और विजय किरोदे ने बताया कि लतीफ भाई अखंड रामचरितमानस के यह धनी थे पूरी रात अकेली ही रामायण पढ़ते थे। शुभम मिश्रा और बाबू सोनी ने बताया कि वे हनुमान मंदिर हनुमान नगर गर्ग कॉलोनी, रामायण मंडल संतोषी माता मंदिर, राम बोलो समिति, गीता रामायण बाल समाज गंज, शारदा माता मंदिर सहित अनेकों मंदिर से मंडल उसे शहर के यह जुड़े हुए थे। कुछ दिनों से महीनों से इनका स्वास्थ्य ठीक नहीं चल रहा था रामायण से उनका प्रेम आखिरी तक रहा। विशाल हालदार और शुभम वागदरे ने बताया कि लतीफ भाई लोग दूर से उनकी मधुर आवाज सुनकर बता देते थे भाई लतीफ जी इस आयोजन में बैठे हैं।

Betul Hindi Samachar: लतीफ भाई रामायणी नहीं रहे, पूरे शहर में शोक की लहर

उनके निधन पर गर्ग कॉलोनी हनुमान मंदिर समिति, हनुमान नगर एवं सभी रामायण भजन मंडलों द्वारा उन्हें श्रद्धांजलि दी है। इस अवसर पर प्रमुख रूप से भूषण पंडाग्रे पंकज एनिया सारंग सिंह चौहान विजय गुरुदेव विजय मिश्रा कैलाश नाम कर अंकुश कीरो दे अर्जुन राठौर भूरा राठौर संजू सोनी अक्कू मगरे तिलक पाटिल योगेश शर्मा नितिन शर्मा मनीष पांडे आकाश सोनी गोपाल महाराज प्रवीण महाराज सागर से सागर धनराज गायकवाड, संतोष सोनी, भुवन सनस, अल्केश चरपे, अनी महाराज आदि ने उन्हें श्रद्धांजली अर्पित की।

Join Telegram Channel

Join WhatsApp Channel

Join WhatsApp Group

Follow us on Google News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *